अपने मंत्रों में और भगवान के प्रति रखे पूर्ण श्रद्धान – मुनिश्री घटयात्रा के साथ जिन सहस्रनाम विधान व जिन बिम्ब चरनाभिषेक प्रारम्भ

बड़वानी – दिगम्बर जैन सिद्धक्षेत्र चूलगिरी बावनगजा जी पर परम् पुज्य आचार्य शिरोमणि विद्यासागर जी महाराज के आशीर्वाद एवं उनके परम् प्रभावक शिष्य मुनि श्री विनम्र सागर जी, मुनिश्री निर्दोष सागर जी एवं संघस्थ मुनिराजों के सानिध्य में गुरूवार सुबह जिन सहस्रनाम विधान एवं जिन बिम्ब चरनाभिषेक का कार्यक्रम घटयात्रा के साथ प्रारम्भ किया गया। घटयात्रा के बाद ध्वजारोहण प्रशम प्राची जैन मनावर वालों ने किया। वहीं मंडप उद्घाटन ट्रस्ट के कार्याध्यक्ष शेखर संतोष पाटनी अंजड़ ने किया। वहीं क्षेत्र पर विराजमान निर्लोभ सागर जी महाराज ने अपने आशीर्वचन में कहा कि आप अपने मंत्रों में और भगवान के प्रति पूर्ण श्रद्धान रखे, तो हर काम में सफलता मिलेगी। जैसे चन्द्रप्रभु भगवान ने दृढ़ श्रद्धान से ही पिंडी फटी और प्रकट होकर दर्शन दिए। इसके बाद भगवान के अभिषेक और शांतिधारा परम् पुज्य मुनि श्री विनम्र सागर जी के मुखारविंद से सम्पन्न हुई। शांति धारा का सौभाग्य सौधर्म इंद्र नरेश गोधा बाकी और कविता नीतिन शाह पूना को मिला। दोपहर के सत्र में पंडित प्रदीप (सुयश) अशोकनगर के निर्देशन में सकलिकरण, इंद्र प्रतिष्ठा एवं समुच्चय पुजन की गई।
पुजन के बाद सत्येंद्र जैन कलामंच नई दिल्ली द्वारा संसार की असारता नाटिका प्रस्तुत की गई। जिसमें बताया कि सब स्वार्थ के साथी है, कोई अपना नहीं है। वहीं धर्मसभा को मुनिश्री निर्दोष सागर जी ने सम्बोधित किया। मुनिश्री ने कहा कि मंदिर में प्रवेश करे तो सारी चिंता, विकल्प, शंका, व्यापार से मुक्त होकर करे नहीं तो आपको पुण्य नहीं मिलेगा। उक्त जानकारी देते हुए प्रचार-प्रसार समिति के मनीष जैन ने बताया कि शाम को आचार्य भक्ति का आयोजन किया गया एवं मंडल जी की आचार्य श्री व मुनिसंघ की आरती हुई। सांयकाल भगवान आदिनाथ की 48 दीपकों से आरती की गई। इस अवसर पर संगीतमई पुजन और आरती बुढ़ार से आई नितेश जैन पार्टी ने धूमधाम से भक्ति कराई।

Check Also

सेठ एम. आर. जयपुरिया स्कूल में हुई स्पोर्ट डे एन्थुशिया के तहत विद्यार्थियों की विभिन्न खेलकूद गतिविधियां |

बड़वानी – शहर के सेठ एम. आर. जयपुरिया स्कूल में वार्षिक स्पोर्ट डे (एन्थुशिया) संपन्न …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *