Dhoni

अगर धोनी मैदान से विदाई के लिए नहीं माने तो बीसीसीआई के पास प्लान-बी भी तैयार

पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने स्वतंत्रता दिवस की शाम को अचानक से इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा की थी। वे पिछले एक साल से टीम से बाहर थे। इस फैसले के बाद खेल जगत के कई दिग्गज और माही के फैंस लेजेंड के लिए एक फेयरवेल मैच की मांग कर रहे हैं। इस पर बीसीसीआई के एक सीनियर अधिकारी ने कहा कि बोर्ड भी विदाई मैच के लिए धोनी से बात कर रहा है। यदि वे नहीं माने तो हमारे पास प्लान बी भी है यानि उनके लिए एक सम्मान समारोह जरूर रखा जाएगा।

धोनी के साथ एक घंटे बाद ही उनके करीबी दोस्त सुरेश रैना ने भी रिटायरमेंट ले लिया था। धोनी ने पिछला मैच जुलाई 2019 में वनडे वर्ल्ड कप का फाइनल खेला था।

माही के लिए फेयरवेल मैच कराना चाहते थे
बीसीसीआई अधिकारी ने न्यूज एजेंसी से कहा, ‘‘अभी भारतीय टीम की कोई इंटरनेशनल सीरीज नहीं है। आईपीएल के बाद हम कुछ कर सकते हैं, क्योंकि धोनी ने देश के लिए बहुत कुछ किया है। वे हर एक सम्मान के हकदार हैं। हम हमेशा से ही धोनी के लिए एक फेयरवेल मैच कराना चाहते थे, लेकिन धोनी एक अलग तरह के खिलाड़ी हैं। उन्होंने अचानक रिटायरमेंट का ऐलान कर दिया। कोई भी यह नहीं सोच सकता था कि वे ऐसा फैसला इतनी जल्दी लेंगे।’’

धोनी के लिए सम्मान समारोह जरूर होगा
अभी तक धोनी ने किसी अधिकारी से कोई बात की है? इस सवाल पर अधिकारी ने कहा, ‘‘नहीं, लेकिन यह पक्का है कि हम आईपीएल के दौरान उनसे बात जरूर करेंगे। उनकी सहमति के बाद सही जगह पर एक मैच या सीरीज जरूर कराएंगे। चाहे वे मानें या नहीं, हम उनके लिए एक सम्मान समारोह कराएंगे। उनका सम्मान करना हमारे लिए गर्व की बात होगी।’’

महान खिलाड़ी को ऐसे ही नहीं जाने दे सकते: मदन लाल
इससे पहले पूर्व भारतीय क्रिकेटर मदनलाल ने भी लेजेंड विकेटकीपर के लिए सम्मान समारोह कराए जाने की बात कही थी। उन्होंने कहा था, ‘‘यदि बीसीसीआई धोनी के लिए फेयरवेल मैच कराती है, तो मुझे सबसे ज्यादा खुशी होगी। वह एक महान खिलाड़ी है। उसे आप ऐसे ही नहीं जाने दे सकते हैं। माही के फैंस उन्हें फिर से खेलते हुए देखना चाहते हैं।’’

झारखंड के मुख्यमंत्री भी रांची में फेयरवेल मैच की मांग कर चुके
धोनी के संन्यास पर झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने भी उनके लिए फेयरवेल मैच की मांग की थी। उन्होंने बीसीसीआई से अपील की थी कि धोनी का विदाई मैच उनके घर यानि रांची में कराया जाना चाहिए। यह उनके लिए सही सम्मान होगा।

Check Also

नपा व पुलिस विभाग ने चलाया रोको-टोको अभियान कोरोना से बचाओ की दी जानकारी, सात लोगों के बनाए चालान

बड़वानी – जिले में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए जिला प्रशासन पूरी तरह मुस्तैद …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *