मध्य प्रदेश: छात्र की शिकायत पर मुख्यमंत्री ने देर रात डीजे पर रोक

भोपाल मध्य-प्रदेश

भोपाल: मध्य प्रदेश के झाबुआ जिले के आठवीं के छात्र हिमांशु सोनी की समस्या को मुख्यमंत्री कमलनाथ ने गंभीरता से लेते हुए पूरे प्रदेश के जिलाधिकारियों को देर रात तक होने वाले ध्वनि विस्तार यंत्रों के उपयोग पर रोक लगाने के निर्देश दिए हैं. मुख्यमंत्री के आधिकारिक ट्वीटर हैंडल पर मौजूद एक ट्वीट में कहा गया है, “झाबुआ के ग्राम मदरानी के आठवीं के छात्र हिमांशु ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर विभिन्न आयोजनों में देर रात तक डीजे बजाने के कारण पढ़ाई प्रभावित होने की शिकायत की थी. मुख्यमंत्री ने हिमांशु को पत्र लिखकर उनकी चिता को सही ठहराया और इस पर नियम के तहत रोक लगाने के निर्देश दिए हैं MLA के साथ काम करके हर महीने कमाएं एक लाख रुपये, दिल्ली सरकार ने निकाली वैकेंसी मुख्यमंत्री कमलनाथ ने हिमांशु को शुक्रवार को पत्र भी लिखा. कमलनाथ ने पत्र में कहा है, “ध्वनि प्रदूषण को लेकर व्यथा व्यक्त की है और पढ़ाई में व्यवधान का जिक्र किया है. देर रात तक तेज आवाज में बजते डीजे हो या लाउडस्पीकर हो, उसके कारण कई छात्रों व बुजुर्गो को निश्चित तौर पर कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है अच्छा लेखन हमें सवाल करने के साथ समाज की छुपी परतों को खोलना सिखाता है: बेन ओकरी कमलनाथ ने लिखा है, “पूरे प्रदेश में मध्यप्रदेश कोलाहल नियंत्रण अधिनियम के तहत ध्वनि प्रसारण यंत्रों को एक निश्चित निर्धारित अवधि में ही अनुमति प्रदान कर ध्वनि की निर्धारित मात्रा का पालन सुनिश्चित करने के संबंध में पहले से ही निर्देश जारी है. इन निर्देशों को पुन: कलेक्टर-पुलिस अधीक्षक को जारी किया जा रहा है. नियम के तहत रोक लगाने के निर्देश दिए हैं.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *