राम मंदिर: RSS प्रमुख भागवत की सभा में मचा हंगामा

राष्ट्रीय

प्रयागराज: कुंभ में चल रही धर्म संसद में शुक्रवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के प्रमुख मोहन भागवत के भाषण के बाद वहां मौजूद लोगों ने जमकर हंगामा मचाया. लोगों ने भगवा झंडों को लहराते हुए राम मंदिर के जल्द निर्माण के पक्ष में नारेबाजी की. वहीं, अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के मुद्दे पर भागवत ने कहा कि यह मामला ”निर्णायक दौर” में है, मंदिर बनने के किनारे पर है इसलिए हमें सोच समझकर कदम उठाना पड़ा. उन्होंने यह भी कहा कि जनता में प्रार्थना, आवेश और जरूरत पड़ी तो ”आक्रोश” भी जगाया जाना चाहिए. धर्म संसद को संबोधित करते हुए भागवत ने कहा, “देश की दिशा भी इस उपक्रम में भटक न जाए, इसे भी ध्यान में रखेगा.” उन्होंने कहा, “आने वाले इन चार-छह महीने के इस कार्यक्रम को ध्यान में रखकर हमें सोचना चाहिए. मैं समझता हूं कि इन चार-छह महीने की उथल पुथल के पहले कुछ हो गया तो ठीक है, उसके बाद यह जरूर होगा, यह हम सब देखेंगे.” उन्होंने मोदी सरकार की परोक्ष रूप से सराहना करते हुए कहा कि पड़ोसी देशों से सताए गए हिंदू अगर यहां आते हैं तो वे नागरिक बन सकते हैं, यह किसने किया है? उन्होंने यह बात नागरिकता संबंधी विधेयक की ओर संकेत करते हुए कही जिसमें पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान में गैर मुस्लिम अल्पसंख्यकों को भारत की नागरिकता देने का प्रावधान है. संघ प्रमुख ने कहा, “जिस शब्दों में और जिस भावना से यह प्रस्ताव (राम मंदिर निर्माण) यहां आया है, उस प्रस्ताव का अनुमोदन करने के लिए मुझे कहा नहीं गया है, लेकिन उस प्रस्ताव का संघ के सर संघचालक के नाते मैं संपूर्ण अनुमोदन करता हूं.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *